सांसद श्री पप्पू यादव ने कई गांवों को लिया गोद।कहा उन गांवों को फिर से बसाउंगा जिसे भ्रष्ट नेताओं ने नासूर बना दिया

पि एन आई पटना

*सांसद श्री पप्पू यादव ने कई गांवों को लिया गोद।कहा उन गांवों को फिर से बसाउंगा जिसे भ्रष्ट नेताओं ने नासूर बना दिया है*

पटना के मंदिर स्थित अपने आवास पर जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और सांसद श्री पप्पू यादव ने एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार के 21 जिले बाढ़ से प्रभावित है ।जिसमें बिहार के 3 जिले अररिया ,किशनगंज और कटिहार इन तीन जिलों से 5-5 गांव वह गोद ले रहे हैं ।उन्होंने कहा कि हमारे पॉलिटिशियन ने जिन जिन गांव को नष्ट किया है। उन्हीं गांव को आज हमने गोद लिया है और साथ ही साथ अन्य सभी जिलों में एक -एक गांव को गोद लेने का फैसला लिया है ।और 4 गांव को गोद लेने के बादउस गाँव मे 20 चापाकल स्वास्थ्य सुविधा बाढ़ पीड़ितों के महिलाओं और बच्चों के बीच कपड़ा वितरण और राहत राशि, 10 दिनों तक भोजन की व्यवस्था शुरू कर दी गई है ।इसमें कटिहार अररिया दरभंगा किशनगंज इन जिलों में गोद लिए गांव में काम शुरू कर दिया गया है ।जब हम 21 जिलो को पूर्ण कर लेंगे तो दूसरे फेज में दूसरा गांव हम लोगों का टारगेट होगा। उन्होंने कहा पार्टी ने सभी 4 जिलों के सभी पंचायतों में 3-3 हजार पैकेट जिसमें 5 Kg चावल और 250 gm सोयाबीन सभी पंचायतों को पैकेज भेजने का निर्देश दिया गया है ।सरकार बिफल है बाढ़ क्षेत्रों में सरकार के लोग पिकनिक मना रहे हैं ।नीतीश कुमार की का मंत्री प्रभारी मंत्री मधेपुरा जिला जाते है और पिकनिक मनाते हैं ।मुर्गा खाते हैं ।और सभी लोग एंजॉय करते हैं ।सरकार के लिए बाढ़ रोकना संभव नहीं है ।उन्होंने कहा कि हमारा पैदाइशी बाढ़में हुआ है इसलिए हम डरते नहीं हैं ।मैं सरकार को 1954 से पहले याद दिलाना चाहता हूं कि बिहार में कोई बाढ़ नहीं था ।लेकिन 54 के बाद 70 के दशक में पॉलिटिशियन और पॉलिटिक्स ने इन नदियों को नासूर बनाया हर जगह पानी रोकी डैम बनाकर एक्सपेरिमेंट किया गया। 86 परसेंट गाढ़ जमाए जिसके कारण आज बाढ़ से पूरा बिहार त्राहिमाम कर रहा है ।आज मैं मंत्री जी से पूछना चाहता हूं कि 70 के दशक के बाद क्या कारण है ,कि आज तक जितने बार भी बाढ़ तूफान आए 2000 से 5000 ,90 से 100 लोग मरे उसमें एक भी MLA MP का बेटा इस तूफान में क्यों नहीं मरे। एक भी MLA MP का बेटे को सांप ने कियूँ नहीं काटा। एक भी MLA और MP का बेटा को अपने क्षेत्र में रहने की जरूरत क्यों नहीं पड़ी ।उन्होंने कहा कि मैं सिंचाई मंत्री से विनम्रता के साथ पूछना चाहता हूं कि हमने मूसा को कहा है कि मूसा ने बांध को काट दिया ।यह जो बांध काटा गया है यह टुंडा मूसा ने 70 के दशक से इन बांधों को काटना शुरु किया ।उसका नतीजा आज पूरा बिहार झेल रहा है आखिर इन्होंने रिजाइन नहीं किया उन्होंने FIR लॉन्च नहीं किया ।नैतिकता के पाठ नहीं पढ़ाई, उन्होंने नसीहत देते हुए कहा कि नीतीश कुमार जी रामविलास पासवान जी लालू यादव जी और लालू यादव जी के साहबजादे और साहबजादी सभी लोग 26 दिनों के बाद एक करोड़ के रथ से बाढ़ देखने जाते हैं ।और वहां भी सुशील मोदी और बीजेपी की बात करते हैं ।सर्किट हाउस में जाकर मटन और मुर्गा का इंजॉय करते है जिसका फोटो उन्होंने पेश किया ।उन्होंने आग्रह किया कि लूटा हुआ धन यदि कुछ बचा हो या रैली में बचे हुए कुछ धन अगर बाढ़ पीड़ितों के लिए लगा देते यह बिहार के जनता के लिए बहुत बड़ी बात होती ।

यूनिट हेड राजेश कुमार के साथ हैप्पी श्रीवास्तव पी एन आई पटना

About Ashu Raja

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*