हलवाई नहीं, फिल्मकार हूं: तिग्मांशु धूलिया

Tigmanshu Dhulia

हलवाई नहीं, फिल्मकार हूं: तिग्मांशु धूलिया

नई दिल्ली। स्वतंत्रता संग्राम में सुभाष चंद्र बोस की इंडियन नेशनल आर्मी (आईएनए) के योगदान पर फिल्म ‘राग देश’ बनाने वाले जाने माने फिल्मकार तिग्मांशु धूलिया ने कहा है कि बतौर कलाकार वह हमेशा कुछ नया करना चाहते है।
तिग्मांशु ने ‘यूनीवार्ता’ से खास बातचीत में कहा कि ‘राग देश’ जैसी फिल्म का निर्माण सरकार की मदद से ही संभव है।
बंबईया सेटअप में इस फिल्म के साथ कभी न्याय नहीं होता।
उन्होंने कहा कि वह फिल्मकार हैं, हलवाई नहीं कि एक ही तरह की मिठाई बार-बार दर्शकाें के सामने पेश करें।
उन्होंने कहा कि वह किसी बॉलीवुड निर्माता के साथ ऐसी फिल्म नहीं बना पाते।
” उन्होंने कहा, “हमारे देश में फार्मूलों पर फिल्म बनती है एक फॉर्मूला हिट होने के बाद सब उसके पीछे भागने लगते है।
वही बिरयानी बार-बार लोगों को खिलाते है जैसे फिल्म ना होकर कैटरिंग हो।
एक कलाकार के तौर पर मैं हमेशा कुछ नया करना चाहूंगा।
बार-बार एक ही तरह की फिल्म तो नहीं बनाऊंगा।
मैं हलवाई नहीं हूं, फिल्म मेकर हूं।
बॉलीवुड में जो ऐतिहासिक फिल्में बनी हैं, उनमें इतिहास के साथ छेड़छाड़ कर दी जाती है।
मनोरंजन का स्तर बढाने के लिये निर्माता कुछ भी कर सकते है जिसकी मुख्य वजह है कि बॉलीवुड में ज्यादा पढे-लिखे लोग नहीं है।
” गौरतलब है राग देश का निर्माण राज्य सभा टीवी ने किया है।
तिग्मांशु ने कहा कि देश में पहली बार ऐसा हो रहा है कि मुख्यधारा की किसी फीचर फिल्म का निर्माण एक सरकारी टेलीविजन चैनल के सहयोग से हो रहा है।
इस तरह की फिल्म सरकार ही बना सकती है।
उन्होंने कहा “मेरे पास जैसे ही प्रस्ताव आया, मैंने हामी भर दी क्योंकि मुंबई के निर्माताओं के साथ यह फिल्म बनाना संभव नहीं था।
वहां के निर्माता पूछते कि इस फिल्म में गाना है या नहीं, अभिनेता और अभिनेत्री कौन-कौन है।
राज्यसभा टीवी के निर्माता होने से हम फिल्म की मौलिकता बरकरार रखने मेें कामयाब रहें।
” उन्होंने कहा, “सरकारी चैनल के जुड़े होने के बाद भी हमें पूरी आजादी मिली थी कि हम अपने मुताबिक फिल्म बनाये, सिर्फ यह ध्यान रखना था कि कुछ कल्पनिक ना हो और जो भी हम दिखा रहे है उसका कहीं ना कहीं लिखित प्रमाण होना चाहिये।
‘राग देश’ फिल्म की कहानी आईएनए के तीन अधिकारियों कर्नल प्रेम सहगल, कर्नल गुरबख्श सिंह ढिल्लो और मेजर जनरल शाह नवाज खान के मशहूर कोर्ट मार्शल पर आधारित है।
ये ट्रायल दिल्ली के लाल किले में हुए थे, इसलिए इसे रेड फोर्ट ट्रायल के नाम से भी जाना जाता है।
आगामी 28 जून को रिलीज होने वाली इस फिल्म में कुणाल कपूर, अमित साथ और मोहित मारवाह मुख्य भूमिका में है।
फिल्म के ट्रेलर को पिछले माह संसद भवन में रिलीज किया गया था।
– एजेंसी

 

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*